Ad Unit (Iklan) BIG

{अहंकार} Ghamand Shayari in Hindi [ घमंड शायरी हिंदी में ]

Post a Comment
नमस्कार दोस्तों | आज हमने आपके साथ Ghamand Shayari in Hindi शेयर की है | हम सभी किसी या किसी इंसान से मिले ही होंगे जो बहुत ज्यादा घमंडी होते है तो आप अपने Facebook or Whatsapp पे शेयर कर के उन्हें थोड़ा अहससा करवा सकते है 

हमने यहाँ पर घमंडी शायरी के साथ साथ Ghamand Quotes और घमंडी स्टेटस भी शेयर किए है इन्हे आप अभिमानी और अभिमान शायरी भी कह सकते है | 

Ghamand Shayari 2022


Ghamand Shayari


किसी भी बात का घमंड करोगे ,
तो बाद में बेहद पछताओगे। 
क्यूंकि घमंड सब कुछ चूर है करता,
जिसका है घमंड उसको आपसे दूर करता।

घमंड किस बात का है जनाब,
आज मिट्टी के ऊपर हैं,
तो कल मिट्टी के नीचे होंगे।

अच्छी बात है कि आप अहंकारी हैं क्योंकि इसके रहते आप कभी स्वयं को गलत होते हुए भी गलत नहीं समझेंगे

राज तो हमारा हर जगह पे है
पसंद करने वालों के दिल में
और नापसंद करने वालों के दिमाग में !!

मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत है इस दुनिया में,
बाद में पता चला की सब चाहते है अपनी ज़रूरत के लिए

मेरे सारे कसूरों पर भारी मेरे एक कसूर है,
मैं उसे पसंद करता हूँ बस इसी बात का उसे गुरूर है.

सुन्दर दिल वाले से प्यार करना चाहिए,
अक्सर खूबसूरत चेहरे के पीछे
घमंड छिपा होता है।

घमंड न कर बंदे अपने वक़्त का,
क्योंकि बदलता है ये हर शख्स का।

ना इज्जत कम होती ना शान कम होती,
जो बात तुमने घमंड में कहीं हैं,
वो बात हस के बोली होती तो तुम्हारी खूब तारीफ होती !

कहीं का ग़ुस्सा कहीं की घुटन उतारते हैं...
ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे फ़न उतारते हैं.

तुझसे अलग होने के बाद
मुझे तेरे घमंड का पता चल गया
लोग सिर्फ पैसे वाले इंसानों से ही
बात करना पसंद करते हैं !!


 Ghamand Status in Hindi


Ghamand Status


वक्त तो सबका बदलता रहता है इस पर घमण्ड क्या करना ,
कुर्सी तो वही रहेगी बस आने जाने वाले लगे रहेंगे ।

गुरूर के भी अजब हैं किस्से,
आज मिट्टी के ऊपर, कल मिट्टी के नीचे.

तोड़ना हीं है अगर तो घमण्ड तोड़ना,
रिश्तें तो ग़लतफहमी में भी टूट जाते है

न मेरा एक होगा, न तेरा लाख होगा,
न तारीफ़ तेरी, न मेरा मजाक होगा,
गुरूर न कर शाह-ए-शरीर का,
मेरा भी खाक होगा, तेरा भी ख़ाक होगा.

तोड़ना हीं है अगर तो घमण्ड तोड़ना,
रिश्तें तो ग़लतफहमी में भी टूट जाते ह

बोल दिया होता तुम्हें दर्द देना है,
ऐ जिंदगी मोहब्बत को बीच में,
लाने की क्या जरूरत थी।

 मत कर इतना घमंड बहुत पछताएगा,
एक दिन खुद ही अपनी नजरो में गिर जाएगा !

इतना घमंड किस बात का,
है तुम्हे,
तुम आज जो भी हो ना मेरी वजह से हो।


 अभिमान शायरी


अलग होने के बाद मुझे मेरे घमंड का पता चल गया,
लोग सिर्फ अच्छे इंसान से बात करना पसंद करते हैं
आज हमें ये भी पता चल गया !

मैं अन्धेरा हूं तो अफसोस क्यूं करूं..? 
मुझे गुरूर है, रोशनी का वजूद मुझसे है..!!

तूने फेसले ही फासले बढाने वाले किये थे वरना कोई नहीं था,
तुजसे ज्यादा करीब मेरे
अरे अभी तो पिता का पैसा है तो इतना घमंड है,

अहंकार में आ के किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है, 
माफ़ी माँग के वही रिश्ता निभाया जाए..

खुद के पैसों से घमंड दिखाओ,
तब देखेंगे तुझमें कितना दम कहा है !

अक़्सर ऊँचायों को छूने पर लोग अपनी वास्तविक पहचान भूल जाते हैं,
और जिस दिन अहंकार हावी होता है तब सिवाए पतन के,
और कुछ हांसिल नही होता।.

घमंड से हर कोई दूर होता है
एक ना एक दिन तो
घमंड चूर होता है !!

सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम
कभीवो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते

 

अहंकार और घमंड शायरी इन हिंदी 


Ghamandi Shayari



घमंड’ और ‘पेट’ जब ये दोनों बढ़तें हैं… 
तब ‘इन्सान’ चाह कर भी किसी को गले नहीं लगा सकता.

ज़रूरत तोड़ देती हैं इंसान के घमंड को,
अगर न होती मजबूरी तो हर बंदा खुदा होता.

रूबरू होने की तो छोड़िये, लोग गुफ़्तगू से भी कतराने लगे हैं,
गुरूर ओढ़े हैं रिश्ते, अपनी हैसियत पर इतराने लगे 

मुझसे किसी का दिल नहीं तोड़ा जाता,
पर हाँ घमंड तोड़ने का हुनर है मुझमें।

ना इतराओ इतना, बुलंदियों को छूकर,
वक्त के सिकन्दर पहले भी कई हुए हैं,
जहाँ होते थे कभी शहंशाह के महल,
देखे हैं वहीं, अब उनके मकबरे बने हुए हैं..

मत कर इतना घमंड
बहुत पछताएगा
एक दिन खुद ही अपनी नजरो में
गिर जाएगा !!

घमंङ में हस्तियाँ
और तूफान में कश्तियाँ
अक्सर डूब जाया करती हैं जनाब।


 पैसे का घमंड स्टेटस इन हिंदी


चेहरे पर हंसी छा जाती हैं,
आँखों में सुरूर आ जाता हैं,
जब तुम मुझे अपना कहते हो,
मुझे खुद पर गुरूर आ जाता हैं.

हम खुदा से उस शक्स को
पाने की दुआ कर बैठे है
जिसे खुद के होने पे ही
इतना घमंड है !!

 जब घमंड इंसान के सिर पे चढ़ जाता है , तब इंसान कुछ देख नहीं पाता है। 
 और जब घमंड चूर-चूर होता है ,
 तो हर रिश्ता उस इंसान से दूर होता है

बहुत घमंड भी था
मुझे तुम्हारा होने का
पर घमंड था ना
एक दिन टूटना ही था !!

न तारीफ़ तेरी, न मेरा मजाक होगा,
गुरूर न कर शाह-ए-शरीर का,
मेरा भी खाक होगा, तेरा भी ख़ाक होगा.

अपनी जेब का गुरूर अपने सर पर मत चढ़ने देना, 
वरना तक़दीर वक़्त नहीं लगाती ज़मीन की धुल चाटने में।

 

Ghamand Shayari in Hindi


अक़्सर ऊँचायों को छूने पर लोग अपनी वास्तविक पहचान भूल जाते हैं
और जिस दिन अहंकार हावी होता है तब सिवाए पतन के और कुछ हांसिल नही होता।

मेहमान जब आए मेहनत से बना मकान देखने, 
उसने गुरूर में घर तो दिखाया बस संस्कार दिखाना भूल गया।

 किस बात का बन्दे तुझे गुरूर है ,
 कि पैसा और शोहरत चारो ओर है। 
 एक दिन ये सब कुछ छूट जाएगा ,
 तब तू किस बात का घमंड दिखाएगा।

उनके जेहन में घमंड का आना लाज़मी था,
हमनें प्यार ही इस कदर किया था।

फायदा नहीं इतना पढ़ कर कामियाब होने का,
अगर गर्व और गुरूर में फ़र्क़ ही न पता चले। 

घमंड नहीं मुझे खुद पर,
बस कुछ रिश्तो ने खामोश रहना सिखा दिया।

रिश्तों में घमंड नहीं प्यार रखो,
सबकी तरफ अपना विशिष्ट व्यवहार रखो। 
रिश्तों में खुद-ब-खुद सुधार होगा ,
अगर अपना अच्छा आचार-विचार होगा। 

राज तो हमारा हर जगह पे है…। 
पसंद करने वालों के “दिल” में और नापसंद करने वालों के “दिमाग” में !! 


खूबसूरती का घमंड शायरी


ना इतराओ इतना, बुलंदियों को छूकर,
वक्त के सिकन्दर पहले भी कई हुए हैं,
जहाँ होते थे कभी शहंशाह के महल,
देखे हैं वहीं, अब उनके मकबरे बने हुए हैं..

कभी कभी खाक़ (जम़ीन) पर बैठ जाता हूँ मैं, 
क्यूँकि प्यार है मुझे मेरी Aukat से.

अपनी कामियाबी को अपने माँ-बाप के गर्व का कारण बना देना, 
पर उसे अपने घमंड का कारण मत बनने देना।

किस बात का इतना घमंड
किस बात का इतना गुरूर
वक़्त के हाथों बने सब शेर
वक़्त ही करे सब चकनाचूर !!

 Daulat ka Ghamand Shayari


हथियार तो सिर्फ शौक के लिए रखा करते है, 
वरना किसी के मन में खौंफ पैदा करने के लिए तो बस हमारा नाम ही काफी है. 

कहीं का ग़ुस्सा कहीं की
घुटन उतारते हैं
ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे
फ़न उतारते हैं !!

मेरे सारे कसूरों पर भारी मेरे एक कसूर है
मैं उसे पसंद करता हूँ बस इसी बात का
उसे गुरूर है !!

ना इज्जत कम होती ना शान कम होती,
जो बात तुमने घमंड में कहीं हैं,
वो बात हस के बोली होती तो तुम्हारी खूब तारीफ होती !

सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम 
कभी वो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते

Ghamand Quotes


Ghamand Quotes


खुद को बुरा कहने की हिम्मत नहीं,
इसलिए वो कहते है ज़माना ख़राब हैं.

ना इतराओ इतना बुलन्दियो को छूकर ,
वक्त के सिकन्दर पहले भी कई हुए है ,
जहां होते थे कभी शहंशाह के महल ,
देखे है वही अब उनके मकबरे बने हुए है…

मैंने उनका गुरूर कुछ ऐसे तोड़ दिया,
आँखों को चूमा उनकी, और होठों को छोड़ दिया.

अगर ज्यादा ही घमंड है,
तो एक बार समशान होकर जरूर आना,
बहा जाके देख लेना तुमसे भी ज्यादा हेशियत वाले राख में मिले पड़े हैं !

ज़िन्दगी में ऐसे बोहोत से लोग मिलेंगे जिनसे दूरी बनाए रखना बोहोत जरूरी होता है । उन्हें ऐसा लगता है कि हम डरते है , उन्हें पता नहीं है कि वक्त बदलते ही वो साफ हो जाएंगे

जिसके पास कुछ नहीं होता हैं,
उसको घमंड ज्यादा होता हैं.

जीत किस के लिए, हार किस के लिए,
जिन्दगी भर ये तकरार किसके लिए,
जो भी आया हैं वो जाएगा एक दिन
फिर ये इतना अहंकार किसके लिए.

 

Ghamandi Status


गर्दन किसी के आगे झुकाना मत पर इतनी भी ऊँची मत कर लेना की, नीचे सो रहे लोगों को रोंद दो।

घमंड न करना जिन्दगी में तकदीर बदलती रहती हैं,
शीशा वही रहता हैं, बस तस्वीर बदलती रहती हैं.

हम को खरीदने की कोशिश मत करना
हम उन पुरखो के वारिस है
जिन्हो ने ‪मुजरे में ‬हवेलिया
दान कर दी थी !!

लोगो से कह दो हमारी तकदीर से
जलना छोड़ दे
हम घर से दवा नही माँ की दुआ
लेकर निकलते है !!

तेरी अकड़ दो दिन की कहानी हैं,
मेरा गुरूर तो खानदानी हैं.

किरदार में मेरे भले अदाकारियाँ नहीं हैं,
खुद्दारी हैं, गुरूर हैं, पर मक्कारियाँ नहीं हैं.

हम आज भी शतरंज का खेल दोस्तों के साथ नही खेलते हैं,
क्योकि दोस्तों के खिलाफ चाल चलना हमें अच्छा नहीं लगता हैं.

चेहरे पर हंसी छा जाती हैं
आँखों में सुरूर आ जाता हैं
जब तुम मुझे अपना कहते हो
मुझे खुद पर गुरूर आ जाता हैं !!

Final Words :-

उम्मीद है दोस्तों की आपको हमारी Ghamand Shayari पसंद आई होंगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना मत भूलना और जो उसके साथ Ghamand Status और घमंडी कोट्स डाले है वो भी अच्छे लगे होंगे | 

अगर आपके पास और भी घमंड शायरी या घमंडी शायरी हो तो कमेंट बॉक्स शेयर करना मत भूलना | 

Thanks for Visiting...

You May Also Like:-

Related Posts

Post a Comment